विपक्षियों का झारखंड बंद आज, अलर्ट

चाईबासा  :  बड़कागांव गोलीकांड व सीएनटी एसपीटी एक्ट में संशोधन के प्रस्ताव के खिलाफ विपक्षी पार्टियों ने 24 अक्तूबर को बंद बुलाया है. बंदी को सफल करने के लिए विभिन्न राजनैतिक दलों के साथ सामाजिक संगठनों ने अपना जोर लगा दिया है. दूसरी ओर से खूंटी घटना से सबक लेते हुए बंदी के दौरान किसी भी परिस्थिति से निपटने के लिए जिला व पुलिस प्रशासन ने तैयारी कर रखी है. बंदी का अाह्वान करने वाले विपक्षी दलों ने लोगों से स्वेच्छापूर्वक बंदी की अपील की है.
इसके बावजूद बंदी को लेकर सुबह 6 बजे से राजनीतिक दलों के कार्यकर्ता सड़क पर उतर सकते हैं. राजनैतिक दलों ने सुबह में विभिन्न चौक चौराहों पर सड़क जाम करने का निर्णय लिया है. सुबह नौ बजे सामूहिक रूप से राजनैतिक व सामाजिक संगठन के नेता व कार्यकर्ता सड़क पर  निकलेंगे. इसे देखते हुए जवान सुबह 6 बजे से पहले विभिन्न जगहों पर तैनात हो जायेंगे. वहीं रविवार की रात पुलिस पेट्रोलिंग करेगी.
चाईबासा में 12 मजिस्ट्रेट और 180 पुलिस पदाधिकारी व जवान तैनात
शहर के 12 जगहों पर तैनात होगी पुलिस
पुलिस ने बढ़ाई सरकारी संपत्ति की सुरक्षा
लंबी दूरी की बसें व परिवहन व्यवस्था होगी प्रभावित
12 मजिस्ट्रेट, 180 पुलिस पदाधिकारी व जवान तैनात : बंदी में उपद्रवियों से निपटने के लिए जिला व पुलिस प्रशासन ने 12 मजिस्ट्रेट के साथ 180 पुलिस पदाधकारी व जवानों को तैनात किया गया है. इस दौरान विधि व्यवस्था बनी रहे और आम नागरिकों को किसी प्रकार की परेशानी न हो, इसके लिए शहर को संवेदनशील और अतिसंवेदनशील भागों में बांटा गया है. चाईबासा शहर में बंदी को लेकर कुल 12 जगहों का चयन किया गया है. बंदी के दौरान वीडियोग्राफी की जायेगी.
किसी तरह की घटना होने पर वीडियोग्राफी के आधार पर आरोपियों के खिलाफ एफआइआर दर्ज की जायेगी. बंदी के दौरान गिरफ्तार समर्थकों को फुटबॉल मैदान में बने अस्थायी जेल में रखा जायेगा.  सरकारी संपत्ति की विशेष सुरक्षा : बंदी के दौरान उपद्रवियों से सरकारी संपत्ति को सुरक्षित करने के लिये विशेष तैयारी की गयी है.
मुख्य मार्गों के साथ-साथ पेट्रोल पंपों पर विशेष निगहबानी रहेगी. इन जगहों को अग्निशमन, एंबुलेंस व क्रेन की सुविधा रहेगी.  80 लोगों के खिलाफ 107 के तहत वारंट जारी : सदर व मुफ्फसिल थाना के बंदी कराने या समर्थन की घोषणा करने वाले करीब 80 लोगों को धारा 107 के तहत नोटिस जारी किया गया है. सभी थाना को संबंधित लोगों को अविलंब गिरफ्तार करने का आदेश दिया गया है.
अस्पताल, दवा दुकान व स्कूल खुले रहेंगे : सरकार के खिलाफ 24 की बंदी से विपक्षी दलों ने अस्पताल, दवा दुकान, स्कूल व अत्याआवश्यक चीजों को अलग रखने का निर्णय लिया है. बंदी में दुकान, बाजार व परिवहन बंद रहेंगे. छोटी व बड़ी दूरी की वाहन बंद रहेगी.
बंद के प्रभाव से स्कूलों को मुक्त रखे जाने के कारण सभी स्कूल 24 अक्तूबर को खुले रहेंगे.
 – नीलम  आइलिन टोपनो, डीएसइ
जनता पर हमला हुआ है. सरकार के खिलाफ लोगों में आक्रोश है. ऐसे में पार्टी बंद को नैतिक संमर्थन देती है.
– दीपक बिरूवा, विधायक, सदर चाईबासा
बड़कागांव गोलीकांड के खिलाफ 24 को झारखंड बंद किया जा रहा है. कांग्रेस पूरी ताकत के साथ बंद को सफल बनाने उतरेगी. अस्पताल, दवा दुकान, स्कूल को बंद से अलग रखा  गया है. – चांदमनी बालमुचु, जिलाध्यक्ष, महिला कांग्रेस

Leave a Reply