कमलेश हत्याकांड में सातवाँ आरोपी गिरफ्तार

कमलेश तिवारी हत्याकांड में हत्यारों को पिस्टल देने वाले गिरफ्तार

Last Updated on

लखनऊ: कमलेश हत्याकांड में सातवाँ आरोपी गिरफ्तार. हिंदूवादी वेता कमलेश तिवारी हत्याकांड में पुलिस को बड़ी सफलता हासिल हुई है. पुलिस ने मामले में दो लोगो मोईनुद्दीन व अशफाक के मददगार बरेली के प्रेमनगर निवासी मौलाना कैफी अली को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस ने उन्हें गुरुवार को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने सोमवार की देर रात मौलाना कैफी अली को हिरासत में लेकर उनकी भूमिका की पड़ताल शुरू की थी। कमलेश हत्याकांड में मौलाना कैफी अली सातवें आरोपी हैं, जिन्हें गिरफ्तार किया गया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार दोनों हत्यारोपितों ने घटना के बाद मौलाना कैफी अली से संपर्क किया था और बरेली जाकर उनसे मुलाकात भी की थी। मौलाना कैफी अली ने हत्यारोपितों को शरण देने के साथ ही उनका इलाज भी कराया था। कमलेश हत्याकांड में सातवाँ आरोपी गिरफ्तार

इधर पुलिस ने कमलेश के हत्यारोपित मोइनुद्दीन और अशफाक को गोपनीय तरीके से गुरुवार को मजिस्ट्रेट के समक्ष लेकर गई। पुलिस ने दोनों की कस्टडी रिमांड की अर्जी दी। इस पर मजिस्ट्रेट ने पुलिस को आरोपितों की दो दिन की कस्टडी रिमांड मंजूर कर दी, जिसके बाद उन्हें जेल भेज दिया गया। पुलिस दोनों को शुक्रवार सुबह गोसाईगंज जेल से लेकर निकलेगी।

वही कमलेश तिवारी की हत्या के बाद उनके खुर्शेदबाग स्थित कार्यालय पर अधिकार को लेकर स्तिथि साफ़ नहीं हो रही थी लेकिन अखिल भारत हिंदू महासभा ने गुरुवार को इस कार्यालय में कमलेश तिवारी की श्रद्धांजलि सभा आयोजित करने के साथ ही कार्यालय पर अपना दावा किया। वहीं दूसरी ओर कमलेश तिवारी की हिंदू समाज पार्टी ने कार्यालय को अपना बताया है।

Leave a Reply